.Com कोई तकलीफ या भय तो कोई ज्ञान बढ़ाने के लिये कर रहा भक्तिः प्रभु दयाल | Zila News

कोई तकलीफ या भय तो कोई ज्ञान बढ़ाने के लिये कर रहा भक्तिः प्रभु दयाल

जौनपुर। इस संसार में अनेक कारणों से लोग भक्ति कर रहे हैं। कोई किसी तकलीफ या भय के कारण तो कोई अपना दुनियावी ज्ञान बढ़ाने या फिर सांसारिक प्राप्तियों के लिये भक्ति कर रहा है। यह वास्तविक भक्ति नहीं है। यह तो इंसान, भगवान के साथ सौदेबाजी कर रहा है। ऐसी चालाकी या चतुराई भगवान के आगे नहीं चलती। सबसे उत्तम भक्ति वह होती है जो दुनियावी इच्छाओं से ऊपर उठकर समर्पित भाव से की जाती है। उक्त उद्गार जौनपुर नगर में स्थित संत निरंकारी सत्संग भवन के प्रागण में उपस्थित विशाल संत समूह को सम्बोधित करते हुये पंजाब से आये विद्वान संत प्रभु दयाल सिंह केन्द्रीय प्रचारक ने व्यक्त किया। उन्होंने आगे कहा कि आज समय के सद्गुरू, सद्गुरू माता सविन्दर हरदेव जी महराज दुनिया के किसी एक हिस्से मे नहीं, बल्कि पूरे विश्व में ब्रम्हज्ञान देकर समस्त मानव मात्र का कल्याण कर रही हैं। इस अवसर पर मुख्य वक्ता श्याम लाल साहू संयोजक, रामपाल, वशिष्ट नारायण पाण्डेय, जयराम, राधेश्याम, रोली जायसवाल, चंदा, जगन्नाथ, गीता सहित तमाम लोग उपस्थित रहे। मंच का संचालन उदय नारायण जायसाल ने किया।

No comments

Post a comment

Home