.Com बौद्धिक संपदा अधिकार एवं प्लेगेरिज्म विषयक पांच दिवसीय फैकेल्टी डेवलपमेंट प्रोग्राम की शुरुआत | Zila News

बौद्धिक संपदा अधिकार एवं प्लेगेरिज्म विषयक पांच दिवसीय फैकेल्टी डेवलपमेंट प्रोग्राम की शुरुआत

जौनपुर। उमानाथ सिंह अभियांत्रिकी एवं प्रौद्योगिकी संस्थान वीर बहादुर सिंह पूर्वांचल विश्वविद्यालय में टेकिप-३ के अन्तर्गत  बौद्धिक संपदा अधिकार एवं प्लेगेरिज्म विषयक पांच दिवसीय फैकेल्टी डेवलपमेंट प्रोग्राम की शुरुआत हुई। जिसमें बतौर मुख्य वक्ता ट्रिपल आईटी इलाहाबाद के भूतपूर्व प्रोफेसर आर सी त्रिपाठी ने कहा कि बौद्धिक सम्पदा अधिकार और प्लेगेरिज्म शिक्षा और उद्योग जगत के लिए आज के समय में अतिमहत्वपूर्ण विषय है। उन्होंने कहा कि कॉपी राइट का अधिकार लेखकों का होता है इसे प्रकाशकों को नहीं देना चाहिए। बौद्धिक संपदा अधिकार के बारे में चर्चा करते हुए  पेटेंट, कॉपीराइट, ट्रेडमार्क, डिजाइन आदि के बारे में बताया। डॉ संदीप सिंह ने कहा  कि हॉलीवुड की फ़िल्में  बॉलीवुड की तुलना में तीन गुना अधिक कमाई करती है क्यों कि भारत में  फिल्मों की पायरेसी आसानी से हो जाती है।
प्रो बी बी तिवारी ने मुख्य  वक्ता   का स्वागत किया। कार्यक्रम  में  प्रो वंदना राय, डॉ प्रदीप कुमार,  डॉ रजनीश भास्कर,डॉ नूपुर ,डॉ उदय राज ,  प्रवीण सिंह,रीतेश बरनवाल,शैलेश प्रजापति,डॉ कमलेश पाल ,विशाल, तुषार श्रीवास्तव आदि रहे। 

No comments

Post a Comment

Home