.Com श्रीमाली जाति का गौरवशाली अतीत रहा हैैः स्वतंत्रतदेव सिंह | Zila News

श्रीमाली जाति का गौरवशाली अतीत रहा हैैः स्वतंत्रतदेव सिंह

जौनपुर। अखिल भारतीय श्रीमाली महासभा जनपद इकाई द्वारा रविवार को प्रादेषिक व ब्लाक स्तरीय कार्यकर्ता सम्मेलन आयोजित किया गया। नगर के वाजिदपुर तिराहे के पास स्थित एक उपवन में आयोजित सम्मेलन के मुख्य अतिथि उत्तर प्रदेष सरकार के परिवहन मंत्री स्वतंत्रदेव सिंह एवं विषिष्ट अतिथि विधान परिषद सदस्य विद्यासागर सोनकर और व्यापार मण्डल प्रदेष उपाध्यक्ष इन्द्रभान सिंह जी रहे। छोटे लाल श्रीमाली क्षेत्रीय अध्यक्ष काषी क्षेत्र की अध्यक्षता में आयोजित कार्यक्रम की शुरूआत अतिथियों द्वारा मां शीतला के चित्र पर मार्ल्यापण एवं दीप प्रज्ज्वलन से हुआ जिसके बाद मुख्य अतिथि श्री सिंह ने कहा कि श्रीमाली जाति का एक गौरवशाली अतीत रहा हैै। यह जाति आदिशक्ति मां शीतला व मां लक्ष्मी का वरद पुत्र है। इनकी उत्पत्ति ही मां के आर्षीवाद से हुई है। विषिष्ट अतिथि श्री सोनकर ने कहा कि आज जहां अनेक छोटी-बड़ी जाति के लोग सभी राजनैतिक दलों का झुकाव उनकी तरफ होता है, वहीं श्रीमाली जाति को अपना हक नहीं मिल रहा है किन्तु अब श्रीमाली जाति जाग उठा है। विषिष्ठ अतिथि श्री सिंह ने कहा कि श्रीमाली महासभा द्वारा समाज के प्रति अनेक निःस्वार्थ तरीके से समाज की सेवा कर रहे हैं जिसका आज परिणाम स्वरूप यह संख्या देखकर लगाया जा सकता है। क्षेत्रीय अध्यक्ष छोटे लाल श्रीमाली ने कहा कि आज हमारी कमेटी पूरे लगन के साथ कार्य कर रही है जिसका उद्देष्य समाज में जागरूकता लाना है। इसके पहले जनपद की सामाजिक संस्थाओं के कार्यकर्ताओं को सम्मानित किया गया। अन्त में कार्यक्रम आयोजक रविकांत श्रीमाली ने सभी के प्रति आभार व्यक्त किया। कार्यक्रम का संचालन रामचन्द्र श्रीमाली ने किया। इस अवसर पर अमरदेव श्रीमाली, लक्ष्मी नारायण श्रीमाली, संतोष श्रीमाली, पंचम श्रीमाली, संजय श्रीमाली, अमित श्रीमाली, शनि श्रीमाली, रविकांत श्रीमाली, राज श्रीमाली, चंदन श्रीमाली, जय नरायन श्रीमाली, विपिन श्रीमाली सहित तमाम स्वजातीय बंधु उपस्थित रहे।

No comments

Post a comment

Home