.Com यदि मानव में अहंकार न हो तो वह कोई पाप नहीं कर सकताः जनार्दन | Zila News

यदि मानव में अहंकार न हो तो वह कोई पाप नहीं कर सकताः जनार्दन

जौनपुर। यदि मानव में अहंकार न हो तो वह कोई पाप नहीं कर सकता है। अहंकार ही है जो मानव को ज्ञान से वंचित कर देता है। ज्ञान होता है श्रीमद्भागवत कथा में, श्मशान में और अपमान में। मानव को दो वस्तु सदैव याद रखनी चाहिये। एक- भगवान एवं दूसरा- मृत्यु तो उससे कभी भी पाप नहीं होगा। उक्त उद्गार रामपुर विकास खण्ड के पूरे दयाल कसेरू गांव में माध्यमिक शिक्षक संघ पाण्डेय गुट के प्रान्तीय उपाध्यक्ष प्रकाश नारायण सिंह के आवास पर आयोजित श्रीमद्भागवत कथा के चौथे दिन जनार्दन मिश्र ने व्यक्त किया। इस दौरान ओंकार नाथ, जय प्रकाश व आदित्य मिश्र के मनमोहक भजन एवं कीर्तन से उपस्थित श्रोतागण झूम उठे। इस अवसर पर मुम्बई से आये जेएन सिंह, चन्द्रकला सिंह, इलाहाबाद मेडिकल कालेज से आये डा. संजय सिंह, राजेन्द्र सिंह, रमेश सिंह सेवानिवृत्त सूबेदार मेजर, सुरेन्द्र सिंह, शिक्षक रविन्द्र सिंह, प्रधानाध्यापक अनिल पाण्डेय, शिक्षक नेता प्रकाश नारायण सिंह, अनीता सिंह, श्रीमती उर्मिला, धर्मराज सिंह, शोभनाथ सिंह, जैतराम, पतंगा सिंह, श्याम बहादुर सिंह, निर्मला, मीना, अजय सिंह सहित तमाम लोग उपस्थित रहे।

No comments

Post a comment

Home