.Com रक्तदान जागरूकता शिविर में लोगो को किया जागरूक | Zila News

रक्तदान जागरूकता शिविर में लोगो को किया जागरूक

जौनपुर । राष्ट्रिय स्वैच्छिक रक्तदान दिवस के अवसर पर सोमवार को नगर के ईशा हास्पिटल ब्लड बैंक में एक संगोष्ठि का आयोजन किया गया जिसमें आए हुए एवं आगन्तुको एवं स्वैच्छिक रक्तदाताओं को रक्तदान के विषय में जानकारी दी गई एवं प्रेरित किया गया। संगोष्ठि में विषय परिवर्तन एवं संचालन का काम ब्लड बैंक के प्रबन्धक निर्मल श्रीवास्तव ने लिया ब्लड बैंक की मेडिकल अफसर वरिष्ठ रोग विशेषज्ञ डा0स्मिता श्रीवास्तव ने अपने सम्बोधन में रक्तदान की आवश्यकता एवं जागरूकता पर प्रकाश डालते हुए कहा कि हर स्वस्थ व्यक्ति जिसकी उम्र 18 से 60 साल के बीच हो तथा उसका हीमोग्लोबिन 12.5 से ऊपर हो वह व्यक्ति दुसरों की जान बचाने जैसे पुण्य कार्य के लिए उसको रक्तदान अवश्य करना चाहिए इसके लिए सरकार भी जागरूकता कार्यक्रम  चलाकर लोगों को रक्तदान करने के लिए प्रेरित कर रही है डा0स्मिता श्रीवास्तव ने रक्तदान के प्रति आम जनमानस में जो भय, अज्ञानता एवं गलत धारणाएं व्याप्त है उसपर विशेष प्रकास डाला।इसी क्रम में एम0डी0 (पैथ0)डा0 डी0सी0 कोठारी ने पावर प्वाईंट प्रोजेक्टर के माध्यम से रक्त एवं उसके घटकों (एफ0एफ0पी0, आर0बी0सी0, प्लाज्मा, प्लेटलेट, क्रायो)के बारे में तथा इसकी आवश्यकता के बारे में विस्तृत जानकारी दी। उन्होने बताया कि डेंगु अथवा किसी कारण से प्लेटलेट्स की कमी होने से रक्त में क्लाटिंग फैक्टर की कमी हो जाती है जिससे मरीज की मृत्यु भी हो सकती है। मरीज को बचाने के लिए एफरेसिस मशीन द्वारा सिंगल डोनर प्लेटलेट मैथड का प्रयोग किया जाता है सींगल डोनर प्लेटलेट के लिए उसी डोनर का प्लेटलेट लिया जाता है जिसका एच0आई0वी0 एच0सी0वी0 एच0बी0एस0एजी0 एम0पी0 एवं वी0डी0आर0एल0 निगेटिव हो एवं उसके रक्त में प्लेटलेट काउण्ट 1लाख 80हजार से अधिक हो वही एस0डी0पी0 के लिए उपयुक्त डोनर हो सकता है अर्चना श्रीवास्तव प्रधानाचार्य ने रक्तदान के महत्व पर प्रकास डाला एवं लागो को आगे बढ़कर रक्तदान करने के लिए जागरूक किया पत्रकार अजय पाण्डेय ने भी रक्तदान की आवश्यकता रक्तदान करने से होने वाले फायदे के बारे में लागो को जानकारी दी स्वैक्षिक रक्तदाता गौरव भगत ने अपने वॉलेन्ट्री ब्लड डोनर सहयोगियों को धन्यवाद दिया और उनसे अपील किया की वो सभी समाज को जागरूक करें और आगे बढ़कर रक्त दान करने की अपील करें।
उक्त अवसर पर प्रबन्धक कृष्णा राय, डा0 भारतेन्दु मिश्र, मोहम्मद तैय्यब, शैलेश शर्मा, संतोष, विजय राय, पार्थ हास्पिटल, कुमार सर्जिकल, आशिर्वाद हास्पिटल, तिर्थराज हास्पिटल के पैरामेडिकल स्टॉफ एवं ईशा हास्पिटल के पैरामेडिकल स्टॉफ के अतिरिक्त मरीजों के अभिभावक उपस्थित रहे।

No comments

Post a Comment

Home