.Com विधिक साक्षरता शिविर आयोजित, दी गयी जानकारी | Zila News

विधिक साक्षरता शिविर आयोजित, दी गयी जानकारी

जौनपुर। उत्तर प्रदेश राज्य विधिक सेवा प्राधिकरण लखनऊ के निर्देशानुसार जनपद न्यायालय के सभागार में विधिक साक्षरता शिविर का आयोजन प्रभारी जनपद न्यायाधीश जीपी तिवारी की अध्यक्षता में किया गया। इस मौके पर श्री तिवारी ने राष्ट्रपिता महात्मा गांधी के विचारों पर प्रकाश डालते हुये बताया कि गांधी जी के विचार व अहिंसा से प्रभावित होकर भारत ही नहीं, बल्कि तत्समय के सैकड़ों देशों ने आजादी पायी। उन्होंने बताया कि गांधी जी व लाल बहादुर शास्त्री मध्यस्थता के पक्षधर थे। मध्यस्थता पर प्रकाश डालते हुये जिला प्राधिकरण द्वारा संचालित मध्यस्थता के माध्यम से वादों का सुलह-समझौते के आधार पर निस्तारण कराये जाने का आह्वान किया। साथ ही उन्होंने बताया कि मध्यस्थता के माध्यम से कम समय एवं अल्प व्यय से सुलभ और सस्ता न्याय प्रदान कराया जाता है। लोकेश वरूण सचिव जिला प्राधिकरण ने कहा कि गांधी जी का अहिंसा के साथ ही मध्यस्थता पर अटूट विश्वास था। लाल बहादुर शास्त्री के ताशकन्द समझौते का जिक्र करते हुये उन्होंने न्यायालयों में लम्बित वादों का त्वरित निस्तारण मध्यस्थता के माध्यम से कराये जाने एवं इसके प्रचार-प्रसार हेतु लोगों से अपील किया। कार्यक्रम का संचालन हृषीकेश पाण्डेय सिविल जज जूडि शहर ने किया। इस अवसर पर अपर जिला जजगण मनोज कुमार, मनोज सिंह गौतम, अशोक कुमार, साजिया नजर जैदी, महेन्द्र सिंह, नियाज अहमद अंसारी, मुख्य न्यायिक मजिस्ट्रेट राहुल आनन्द सहित तमाम न्यायिक अधिकारी, कर्मचारी, अधिवक्ता आदि उपस्थित रहे।

No comments

Post a Comment

Home