.Com प्रत्येक मानव का अधिकार है अपने हक-अधिकार को पानाः रमेश यादव | Zila News

प्रत्येक मानव का अधिकार है अपने हक-अधिकार को पानाः रमेश यादव

जौनपुर। जनपद के शाहगंज सोंधी के अन्तर्गत अभिमन्यु यादव महाविद्यालय लपरी में अन्तरराष्ट्रीय मानवाधिकार दिवस पर राष्ट्रीय एक साथ अभियान के निर्देशन में महिला हिंसा विरोधी पखवाड़ा का समापन किया गया। इस मौके पर प्राचार्य रमेश मिश्र ने कहा कि 10 दिसम्बर 1948 को संयुक्त राष्ट्र एसेम्बली में विश्व मानवाधिकार घोषणा पत्र जारी हुआ। पहली बार इंसान की बुनियादी मुक्ति पर घोषणा हुई। पूरी दुनिया में 28 सितम्बर 1993 को मानवाधिकार कानून अमल में लाया गया। मानवाधिकार का हनन न हो, इसके लिये मानवाधिकार का गठन किया गया। यह आयोग सांस्कृतिक, आर्थिक व राजनीतिक की पूर्ति करता चला आ रहा है। प्रत्येक मानव का अधिकार है कि उसे अपना हक अधिकार मिले। स्वास्थ्य-शिक्षा के साथ उसको जीने का अधिकार दिया गया है। डा. कमलेश कुमार ने कहा कि मानव के अधिकारों का हनन न हो, प्रत्येक मानव को उसका अधिकार मिले, समय-समय पर उसे शिक्षा, स्वास्थ्य, राजनीतिक और समस्याओं का समाधान मिले, इसके लिये सरकार काम कर रही है। कार्यक्रम संयोजक रमेश यादव ने कहा कि स्त्री पुरूष को बराबर समझना चाहिये। बालक व बालिकाओं में किसी प्रकार का अंतर नहीं रखना चाहिये। यदि महिलाओं का सम्मान नहीं होगा तो आने वाली स्थिति और भयावह होगी। कम उम्र में बालिकाओं की शादी नहीं करनी चाहिये। बेहतर शिक्षा, स्वास्थ्य व अधिकार के लिये लगातार बालिकाओं व पुरूषों को सम्बोधित करना हम सभी का कर्तव्य है। प्राध्यापक कु. गीता ने कहा कि हमें अपना अधिकार पाने के लिये स्वयं संघर्ष करना होगा तभी अधिकार मिलेगा। इस दौरान छात्र-छात्राओं ने शपथ लिया कि हम किसी भी मानव का अहित नहीं करेंगे और न ही किसी मानव का अधिकारों का हनन होने देंगे। प्रेम, व्यवहार, सत्य, निष्ठा से जीवन जीयेंगे। इस अवसर पर अजय कुमार, संजय कुमार, दिनेश, संतोष, रीना, प्रियंका, शिल्पी सिंह सहित तमाम लोग उपस्थित रहे।

इसी क्रम में विश्व मानव अधिकार दिवस पर सोमवार को हिन्दुस्तान मानवाधिकार संगठन द्वारा शाही किले के पास स्थित एक पैलेस में गोष्ठी आयोजित हुई जहां वक्ताओं ने विश्व में मानव अधिकार के हनन की बढ़ती घटनाओं पर चिन्ता व्यक्त करते हुये कहा कि हमें लोगों को जागरूक करना होगा और अपना हक व अधिकार लेने के लिये जनता को सामने आना होगा। प्रदेश प्रभारी वकार हुसैन ने कहा कि आज भ्रष्टाचार का बोलबाला है। न्याय का गला तरूता जा रहा है। ऐसे में मानव अधिकार का उल्लंघन रोकना कठिन कार्य है। बावजूद इसके हमारा संगठन पुलिस द्वारा किये जा रहे फर्जी मुठभेड़, शिक्षा विभाग में व्याप्त भ्रष्टाचार सहित अन्य लोगों को फर्जी मुकदमे में फंसाने के खिलाफ आवाज उठाता चला रहा है और आगे भी उठायेगा। इसी क्रम में पंजाब नेशनल बैंक के शाखा प्रबंधक ज्ञान कुमार, एस.क्यू. रजा, राजकुमार सहित अन्य वक्ताओं ने भी अपना विचार व्यक्त किया। गोष्ठी की अध्यक्षता पूर्व न्यायिक अधिकारी अब्बास हुसैन व संचालन वरिष्ठ पत्रकार हसनैन कमर दीपू ने किया। अन्त में पूर्व सभासद शाहिद मेंहदी ने समस्त आगंतुकों के प्रति आभार व्यक्त किया।

No comments

Post a comment

Home