.Com दूषित जल पीकर छप्पर में जीवन यापन करने को मजबूर हैं दर्जनों परिवार][ | Zila News

दूषित जल पीकर छप्पर में जीवन यापन करने को मजबूर हैं दर्जनों परिवार][

जौनपुर। महराजगंज ब्लाक के बरहूपुर गांव अधिकांश गरीब परिवार पेयजल, शौचालय व सिर छिपाने के लिये आवास हेतु तरस रहे हैं। छप्पर, टीनशेड आदि में अपना सिर छिपाना, दूषित जल व खुले में शौच करना गरीब परिवारों की मजबूरी बन गयी है। बता दें कि स्थानीय ब्लाक मुख्यालय से 4 किमी दूरी पर बरहूपुर ग्राम पंचायत है। गांव के गरीब नन्द लाल, तीरथ, राममूरत, मेवा लाल, हरि लाल, सुल्तान, अयूब, मकसूद, मुस्लिम सहित अन्य गरीब का परिवार टीनशेड, छप्पर आदि में जीवन बिता रहा है। वहीं सिराजू, अता हुसैन, मुहम्मद कयूम, कासिम के पास शौचालय तक नहीं है। खुले में शौच करना सभी की मजबूरी बन गयी है। इस समस्या को लेकर चौबे बस्ती के धर्मेन्द्र चौबे का आरोप है कि उनकी बस्ती करीब 20 घरों की है। न किसी को कालोनी मिली और न ही किसी को हैण्डपम्प है। एकाध परिवार को छोड़ बाकी सब 6 नम्बर की छोटी नल से दूषित जल पीने को विवश हैं। वहीं गांव के सलाउद्दीन का कहना है कि ग्राम प्रधान हरि प्रसाद पाण्डेय ने मुस्लिम बस्ती में नाली बनवाने हेतु बस्ती में ही 3-4 माह तक 4 हजार ईंट गिरवाया परन्तु बाद में सभी ईंट उठवा लिया गया। नाली नहीं बनी जबकि बरसात में गन्दे पानी, कचरे आदि से महामारी फैल रही है। इस बाबत पूछे जाने पर ग्राम प्रधान हरि प्रसाद का कहना है कि कुछ अल्पसंख्यक लोगों के पास शौचालय बनवाने तक की जगह नहीं है। कुछ लोगों का शौचालय की सूची में नाम है लेकिन पैसा आते ही पूर्ण करा दिया जायेगा।

No comments

Post a comment

Home