.Com कुरैशी विकास मंच के अध्यक्ष अरशद कुरैशी की मेहनत लायी रंग , जल्द जारी होगा मीट लायसेंस | Zila News

कुरैशी विकास मंच के अध्यक्ष अरशद कुरैशी की मेहनत लायी रंग , जल्द जारी होगा मीट लायसेंस

जौनुपर। आल इंडिया कुरेशी विकास मंच का एक प्रतिनिधिमंडल ने जिला अध्यक्ष अरशद कुरैशी के नेतृत्व में जिला अभिहित अधिकारी खाद्य एवं औषधि प्रशासन विभाग से मिलकर अपना मांग पत्र सौंपा। जिस पर गंभीरता से विचार करते हुए जिला अधिकारी ने कहा कि आप की मांग पत्र के अनुरूप जो भी हल होगा। उसको निकाला जाएगा और सरकार के मंशा के अनुरूप ठोस कदम उठाया जाएगा तथा माननीय न्यायालय एवं प्रमुख सचिव महोदय के आदेश के अनुरूप हम लोग अपने उच्च अधिकारियों से वार्ता करते हुए मीट व्यवसाइयों को हाइजेनिक मीट की बिक्री हेतु लाइसेंस जारी करने की दिशा में उचित कदम जल्द ही उठाया जाएगा उन्होंने यह भी कहा कि लाइसेंस जारी करने के उपरांत सरकार द्वारा निर्मित किए गए लाइसेंसधारी इस स्लाटर हाउस से ही मीट की खरीदारी करके मानक के अनुरूप मीट व्यवसायी शहर में मीट की बिक्री कर सकते हैं। जिसके लिए मीट व्यवसायी को इस आशय का हलफनामा देना होगा।

उक्त अवसर पर जिला अध्यक्ष अरशद कुरैशी ने जारी विज्ञप्ति के माध्यम से बताया कि हम कुरैशी समाज के साथ सौतेला व्यवहार क्यों किया जा रहा है जबकि सरकार की जिम्मेदारी है कि सभी को रोजी रोटी मुहैया कराएं उन्होंने कहा कि श्रीमान अध्यक्ष महोदय राज्य स्तरीय समिति प्रमुख सचिव नगर विकास विभाग के माध्यम से प्रदेश के समस्त जनपदों के जिला अधिकारी को एक पत्र इस आशय का जारी किया जाए जो प्रदेश के अंतर्गत निजी क्षेत्रों में स्थापित पशु वध साला से संपर्क कर स्थानीय हेतु मीट की उपलब्धता सुनिश्चित करने के लिए हाइजेनिक बिटको सब्सिडाइज दर पर उपलब्ध कराया जाएगा लेकिन इस दिशा में काफी प्रयास के बाद भी जिम्मेदार अधिकारियों द्वारा कोई कदम नहीं उठाया जाएगा जिससे हम कुरैशी समाज के लोग आहत हैं इसी क्रम में उन्होंने कहा कि माननीय उच्चतम न्यायालय एवं माननीय उच्च न्यायालय द्वारा एक आदेश भी जारी किया गया कि मीट व्यवसाई का लाइसेंस मानक के अनुरूप जनपद के अभिजीत अधिकारी द्वारा जारी एवं नवीनीकरण किया जाएगा लेकिन काफी प्रयास के बाद भी कोई हल नहीं निकला जिससे हम लोग भुखमरी के कगार पर आ गए हैं उन्होंने कहा कि मुस्लिम समुदाय का मुख्य भोजन मीट होने का कारण शादी एवं विवाह में भी मीट का उपयोग भारी मात्रा में किया जाता है जिस पर रोक नहीं है इसके बावजूद हम लोगों की पुलिसिया उत्पीड़न झेलना पड़ता है इन सभी हालात को देखते हुए हम सभी लोग एकजुट होकर अपनी मांगों को लेकर जिला अभिहित अधिकारी को मांग पत्र सौंप कर यह आशा व्यक्त करते हैं कि हम मीट जो साइयों द्वारा मानक पूरा करने के उपरांत लाइसेंस निर्गत किया जाएगा तथा प्रशासन के उच्च अधिकारियों द्वारा कारपोरेट रिस्पांसिबिलिटी के अंतर्गत सब्सिडाइज दरों पर हाइजेनिक मीट भी उपलब्ध कराया जाएगा जिससे हम वैधानिक तरीके से मीट की बिक्री कर के अपने कारोबार को पुनः चालू कर सकते हैं तथा साथ ही साथ उन्होंने यह भी कहा कि हमारी जायज मांगों को जल्द से जल्द पूरा किया जाए तथा समुचित व्यवस्था में विलंब होने की दशा में बकरा मुर्गा मछली सूअर मिठाई की तर्ज पर हमें भी वैकल्पिक व्यवस्था उपलब्ध कराई जाएगी जिससे कि हम लोगों की रोजी-रोटी चल सके ज्ञापन देने वाले मुख्य रूप से ताज मोहम्मद, मोहम्मद उजैर, हाजी नूर, मोहम्मद सूफियान, इब्राहिम, इरफान, गुफरान, सांगू हकीम, बाबू, आसिफ, आरिफ, सगीर, नफीस, रईस, मतीउल्लाह, हाजी, फखरूद्दीन आदि लोग मौजूद रहे।

No comments

Post a comment

Home