.Com सेवानिवृत्त प्रधानाध्यापक को साथियों ने दी भावभीनी विदाई | Zila News

सेवानिवृत्त प्रधानाध्यापक को साथियों ने दी भावभीनी विदाई


जौनपुर। कर्मठता मनुष्य का वह गुण है जो समाज की दशा व दिशा दोनों बदल सकता है। यदि शिक्षक कर्मठी है तो उन्नत राष्ट्र की परिकल्पना का रास्ता शिक्षालय से ही होकर जाता है। प्रद्योत मौर्य उसी गुण के धनी शिक्षक थे। उक्त बातें खण्ड शिक्षा अधिकारी बरसठी जवाहर लाल यादव ने प्राथमिक विद्यालय लखरांव के प्रधानाध्यापक प्रद्योत मौर्य के सेवानिवृत्त होनेपर आयोजित विदाई समारोह में कही। इसी क्रम में शिक्षक नेता अश्वनी सिंह ने कहा कि व्यक्ति अवकाश प्राप्त करता है। व्यक्तित्व सदैव विद्यमान रहता है। 32 वर्ष प्राथमिक शिक्षक के रूप में यदि प्रद्योत का व्यक्तित्व देखा जाय तो आने वाली पीढ़ी के लिये अनुकरणीय है। कार्यक्रम की अध्यक्षता अमरनाथ यादव व संचालन अरूण यादव ने किया। इस अवसर पर राकेश उपाध्याय, सभाजीत पटेल, आनन्द वर्मा, नन्द लाल मौर्य, रमाशंकर सिंह, प्रदीप मौर्य, ओम प्रकाश चौरसिया, शिवशंकर यादव, हरिनाथ यादव आदि उपस्थित रहे। अन्त में रमेश चन्द्र ने सभी के प्रति आभार व्यक्त किया।

No comments

Post a comment

Home