.Com भारत माता के अनन्य उपासक थे स्वामी सत्यमित्रानंद जीः कुलपति | Zila News

भारत माता के अनन्य उपासक थे स्वामी सत्यमित्रानंद जीः कुलपति

जौनपुर। वीर बहादुर सिंह पूर्वांचल विश्वविद्यालय के सभागार में पद्म भूषण पूज्य स्वामी सत्यमित्रानन्द गिरी जी महाराज के ब्रह्मलीन होने पर श्रद्धांजलि सभा का आयोजन हुआ। इस मौके पर विवि के कुलपति प्रो. राजाराम यादव ने कहा कि स्वामी जी ने अपना भौतिक शरीर त्याग कर ब्रह्मलीन हो गये। उनके ब्रह्मलीन होने से आज परम्परागत धर्म संवाहक के रूप में एक अलौकिक युग का अन्त हो गया। वह भारत माता के अनन्य उपासक और निवृत्त जगद्गुरु शंकराचार्य रहे हैं। इसी क्रम में परीक्षा नियंत्रक डा. राजीव कुमार, प्रो. विक्रमदेव सहित वक्ताओं ने अपना विचार व्यक्त किया। सभा का संचालन जनसंचार विभाग के अध्यक्ष डा. मनोज मिश्र ने किया। इस अवसर पर कुलसचिव सुजीत जायसवाल, प्रो. अजय द्विवेदी, डा. प्रमोद यादव, डा. केएस तोमर, डा. राजकुमार, डा. संतोष कुमार, डा. जगदेव, डा. पुनीत धवन, डा. सुधीर उपाध्याय, डा. एसपी तिवारी, डा. शैलेश प्रजापति,  डा. महेन्द्र यादव, डा. नितेश जायसवाल, डा. संजय श्रीवास्तव, मदन मोहन भट्ट, अशोक सिंह, डा. राजेश सिंह, अरूण, आदर्श सहित तमाम लोग उपस्थित रहे।

No comments

Post a Comment

Home