.Com बीमारी को सीमित करने के लिए विभिन्न कार्य किया जा रहा है, | Zila News

बीमारी को सीमित करने के लिए विभिन्न कार्य किया जा रहा है,

जिला मलेलिया अधिकारी ने अवगत कराया है कि वर्तमान समय मच्छरजनित बीमारियों यथा डेंगू, मलेरिया, फाइलेरिया, जे0ई0 इत्यादि एवं जलजनित बीमारियों जैसे गैस्ट्रो, पीलिया, टाइफाइड, स्क्रब टाइफस के संचरण का अनुकूल वातावरणीय समय है। बीमारी के प्रसार से पूर्व अवश्यक है कि उससे सम्बन्धित गतिविधियॉ सम्पन्न करायी जाएं। बीमारी को सीमित करने के लिए विभिन्न कार्य किया जा रहा है, जिसमें डेंगू नियन्त्रण हेतु जनपद जौनपुर में स्थापित डेंगू वार्ड-01 जिला अस्पताल (20 बेड), 21 प्रत्येक सी0एच0सी0/पी0एच0सी0 (10 बेड), फीवर हेल्प डेस्क स्थापित-01 जिला अस्पताल, 21 सी0एच0सी0/पी0एच0सी0, घर-घर सर्वे हेतु गठित कुल टीमें-3182 (ग्रामीण), 21 (नगरीय), रैपिड रिस्पांस टीम- 21 (ग्रामीण), प्रत्येक सी0एच0सी0/पी0एच0सी0 पर 01, 01 (नगरीय), कुल पैथोलाजी- 23 है।
  डेंगू रोगियों के सापेक्ष करायी गयी निरोधात्मक कार्यवाही का विवरण - कुल धनात्मक 99 रोगियों के सापेक्ष 90 रोगियों के यहॉ निरोधात्मक कार्यवाही पूर्व के कार्यदिवसों में कराया जा चुका है। 03 धनात्मक रोगियों, बदलापुर ब्लॉक के कस्बा के 02 रोगी तथा ग्राम सरोखनपुर का 01 रोगी के यहॉ आज रैपिड रिस्पांस टीम कार्यवाही के लिए गयी है। निरोधात्मक कार्यवाही के अन्तर्गत टीम द्वारा कुल 180 लोगों का मौके पर डेंगू किट से जॉच किया गया, सभी निगेटिव पाये गये। किट द्वारा 448 लोगों का मलेरिया जॉच किया गया, सभी निगेटिव पाये गये। रैपिड रिस्पांस टीम द्वारा 1872 घरों के 7531 पानी के कन्टेनरों का सर्वे किया गया। टीम ने 889 प्रजनन स्रोतों का विनष्टीकरण कराया। रैपिड रिस्पांस टीम ने 1146 घरों के 4578 कमरों में पाइरेथ्रम 2 प्रतिशत का छिडकाव कराया एवं 1186 स्थलों (नालियों, गड्डों) में लार्वानाशी का छिडकाव किया गया।

No comments

Post a Comment

Home