.Com जौनपुर। मिशन शक्ति - 4.0 अभियान के अंतर्गत जनपद के सभी ब्लाक में सोमवार (27 जून) को स्वावलंबन कैम्प लगाए जाएंगे। | Zila News

जौनपुर। मिशन शक्ति - 4.0 अभियान के अंतर्गत जनपद के सभी ब्लाक में सोमवार (27 जून) को स्वावलंबन कैम्प लगाए जाएंगे।

जौनपुर।  मिशन शक्ति - 4.0 अभियान के अंतर्गत जनपद के सभी ब्लाक में सोमवार (27 जून) को स्वावलंबन कैम्प लगाए जाएंगे। जिला प्रोबेशन अधिकारी (डीपीओ) अभय कुमार ने बताया कि अभियान के तहत पति की मृत्यु के उपरांत निराश्रित महिला के लिए पेंशन योजना, मुख्यमंत्री कन्या सुमंगला योजना, मुख्यमंत्री बाल सेवा योजना एवं मुख्यमंत्री बाल सेवा योजना (सामान्य) के लाभार्थियों को चिह्नित करते हुए उनके फार्म भराए जाएंगे और उन्हें अधिक से अधिक लाभ दिलाने की कोशिश की जाएगी। 

 डीपीओ ने बताया कि इस संबंध में मुख्य विकास अधिकारी (सीडीओ) सीलम साई तेजा ने जिले के सभी खंड विकास अधिकारियों (बीडीओ) को पत्र जारी कर दिशा-निर्देश जारी किए हैं। खंड विकास अधिकारियों को निर्देशित किया है कि केंद्र और प्रदेश सरकार की ओर से संचालित मुख्यमंत्री कन्या सुमंगला योजना, मुख्यमंत्री बाल सेवा योजना, मुख्यमंत्री बाल सेवा योजना (सामान्य), पति की मृत्यु के उपरांत निराश्रित महिला पेंशन योजना, बाल संरक्षण सेवा (स्पांसरसिप) बेटी बचाओ, बेटी पढ़ाओ आदि योजना में लाभान्वित किए जा सकने वाले परिवारों, महिलाओं तथा बच्चों के आवेदन की समस्त कार्रवाई सिंगल विंडो कैम्प के माध्यम से पूरी की जाएगी। 

कैम्प में वह सभी अधिकारी और कर्मचारी जिन्हें फार्म भरना है, भरवाना है, फार्म के लिए जरूरी दस्तावेज जारी करना है, सत्यापन के लिए फारवर्ड करना है, सत्यापन करना है, स्वीकृत करना है, एक ही स्थान पर कैम्प में उपस्थित होंगे और आवेदन पूर्ण करने की कार्रवाई पूरी कर आवेदनकर्ता को लाभ दिलाएंगे। डीपीओ ने कहा कि कैम्प लगने से पहले सभी ग्राम सभाओं में लाभार्थियों को योजना से जोड़ने के लिए कैम्प के आयोजन स्थल व दिनांक का व्यापक प्रचार-प्रसार किया गया है। जागरूकता के लिए जनप्रतिनिधियों, क्षेत्र में प्रभाव रखने वाले लोगों, धर्म गुरुओं के साथ ही समाजसेवी, स्वयंसेवी संस्थाओं का सहयोग लिया जा रहा है। कैम्प को सफल बनाने, ज्यादा से ज्यादा लाभार्थियों को जोड़ने के लिए कैम्प से एक दिन पहले सभी ग्राम सभाओं में प्रधान की अध्यक्षता में ग्राम बाल संरक्षण समिति की बैठकें करायी जा रही है । जोखिम में आए बच्चों व महिलाओं को चिह्नित कर स्वालंबन कैम्प के लिए जागरूक किया गया है । योजनाओं से संबंधित आवेदन तथा अभिलेख तैयार कराने के लिए कार्रवाई की जाएगी।

No comments

Post a Comment

Home