.Com निपुण लक्ष्य आधारित प्रशिक्षण का शुभारंभ | Zila News

निपुण लक्ष्य आधारित प्रशिक्षण का शुभारंभ


विकासखंड शाहगंज के ब्लॉक संसाधन केंद्र पर निपुण लक्ष्य आधारित प्रशिक्षण का शुभारंभ जिला बेसिक शिक्षा अधिकारी डॉक्टर गोरखनाथ पटेल द्वारा मां सरस्वती की प्रतिमा पर माल्यार्पण एवं दीप प्रज्वलित कर किया तत्पश्चात द्वय प्रशिक्षण कक्ष का फीता काटकर उद्घाटन किया और अपने संबोधन में कहा कि जब तक हम अपने अंतिम बच्चे तक आधारभूत साक्षरता एवम संख्या ज्ञान  की पहुंच  सुनिश्चित नहीं करेंगे तब हम लोग चैन से नहीं बैठेंगे । उन्होंने कहा कि शिक्षा दक्षता युक्त शिक्षा और दक्षता युक्त आर्थिक समझ जब हमारे सभी बच्चों में आ जाएगी तो हमारे सभी बच्चे सरकारी नौकरी,  व्यवसाय में आत्म निर्भरता आदि आदि हासिल कर संकेंगे ।
       तत्पश्चात प्राचार्य डॉ सच्चिदानंद यादव, पूर्व जिला बेसिक शिक्षा अधिकारी एवं वर्तमान  वरिष्ठ प्रवक्ता    जौनपुर डॉ राकेश कुमार राकेश सिंह एवं नवागत पी इ एस अधिकारी मनीष कुमार सिंह का आगमन हुआ सभी का बुके देकर के स्वागत एवं खंड शिक्षा अधिकारी द्वारा सभी को अंगवस्त्रम एवं बुके देकर स्वागत किया गया तत्पश्चात प्राचार्य डॉ सच्चिदानंद द्वारा अपने उद्बोधन में कहा गया की यह लक्ष्य बहुत बड़ी बात नहीं है भाषा और गणित का यह लक्ष्य इतना छोटा लक्ष्य और हमारे ऊर्जावान शिक्षक अपने मनोयोग से अगर आज से चाहने ले तो एक माह के भीतर सभी बच्चों को लक्ष्य प्राप्त करा लेंगे क्योंकि हमारे पास संसाधनों की कमी नहीं रह गई हैं समस्त प्रकार के शिक्षण, प्रशिक्षण एवं कायाकल्प सभी संसाधन से युक्त विद्यालय कर दिया गया है अब हमें केवल शिक्षण कार्य अपने मनोयोग से करना है जिससे कि हम 2025 26 तक उत्तर प्रदेश द्वारा निर्धारित भाषा गणित के लक्ष्य को प्राप्त कर सभी को साधुवाद देते हुए सर ने कहा हमने सही अपने जनपद जौनपुर को निपुण जौनपुर।
   डायट के वरिष्ठ प्रवक्ता एवं पदेन उप प्राचार्य डॉ0  राकेश सिंह ने कहा कि हम जनपद जौनपुर के जिला बेसिक शिक्षा अधिकारी डॉ0 गोरखनाथ पटेल के नेतृत्व में हम जनपद जौनपुर को अवश्य निपुण जौनपुर बनाएंगे इसके लिए हमें किसी भी प्रकार से किसी भी संसाधन के लिए कहीं से भी खोज के लाना पड़ेगा हम लाएंगे और डॉक्टर गोरखनाथ पटेल के साथ कंधे से कंधा मिलाकर जनपद जौनपुर को प्रेरक जौनपुर बनाएंगे
        एस. आर. जी. डॉ0 अखिलेश सिंह, डॉ0 कमलेश कुमार यादव, एवं अजय कुमार मौर्य  ने दोनों कक्षों में प्रशिक्षण के प्रथम दिन की शुरुआत और प्रशिक्षण के मूल व्यावहारिक कक्षा शिक्षण से संदर्भित भाषा एवं गणित के सुबह के 3 पीरियड और शाम के 3 पीरियड को कैसे पढ़ायां है किस तरह से उसका पुनरावृति, कैसे बच्चों को वर्ग वर्ग भी में बैठकर उपचारात्मक प्रशिक्षण एवं उनको समान दक्षता लाने के लिए नवीन शिक्षण विधियों के माध्यम से किया जाएगा पर विस्तार से प्रकाश डाला गया।
अंत में खंड शिक्षा अधिकारी अमरदीप जैस्वाल द्वारा सभी जनपद से आए हुए अतिथियों का आभार व्यक्त करते हुए धन्यवाद ज्ञापित किया तथा प्रशिक्षण के सुचारु रुप से चलाने हेतु समस्त ए आर पी को निर्देशित किया ।

No comments

Post a Comment

Home