.Com फतेहगढ़ जेल के आसपास पुलिस की अनुमति के बिना नही मिलेगा किसी को मकान। | Zila News

फतेहगढ़ जेल के आसपास पुलिस की अनुमति के बिना नही मिलेगा किसी को मकान।

बागपत से-फतेहगढ़ जेल में मुन्ना बजरंगी की हत्या के आरोपी सुनील राठी के आते ही शासन से ले कर ज़िला प्रशासन तक सतर्क हो गया है।
ज़िला प्रशासन पुलिस और स्थानीय अभिसूचना इकाई की टीमो ने जेल के आसपास किसी अजनबी के फटकने न देने का रोड मैप तैयार किया है।इस बात पर भी ज़्यादा ज़ोर है कि जेल के आसपास किसी नए किराएदार  को मकान न दिया जाए।आशंका है कि राठी के गुर्गे फतेहगढ़ जेल के आसपास मकान किराए पर ले कर यहां से गैंग संचालित कर सकते हैं।इसी के मद्दे नज़र स्थानीय पुलिस के अफसरों ने जेल के आसपास के मकान मालिकों को थाने में बुला कर मकान किराए पर न देने की सख्त हिदायत दी है।
कोतवाली के प्रभारी निरीक्षक झाँझन लाल सोनकर ने सेन्ट्रल जेल चौकी इंचार्ज दिनेश गौतम के साथ चौकी परिसर में मकान मालिकों के साथ बैठक की।उन्होंने बताया की जेल में कई माफिया बंद है।जिनके गुर्गे आस-पास के मकानों में कमरे कराये पर लेकर रहते है और वही से अपने माफिया का नेटवर्क चलाते है।उन्होंने सख्त हिदायत दी है की कोई भी मकान मालिक किसी अपरिचित व्यक्ति को अपने घर पर किराये पर कमरा ना दे।यदि कोई अपरिचित आता है तो उसकी सूचना पुलिस को दे।पुलिस उसकी पड़ताल करेगी और यदि वह संदिग्ध है तो कार्यवाही भी होगी।
उन्होंने यह भी कहा कि यदि मकान मालिक बिना पुलिस को सूचना दिये अपरिचित किरायेदार को कमरा देता है तो मकान मालिक के खिलाफ कार्यवाही होगी।कोई भी मकान मालिक अभी तक आधार कार्ड उसके कागजात देखकर अपने मकान में कमरा देता था वह नही होगा वह उसको भली प्रकार से जनता हो तभी अपने मकान में रख सकता है।इस दौरान कुछ दुकानदारों ने सेन्ट्रल जेल चौराहे की साप्ताहिक बंदी कराये जाने की भी मांग रखी।

No comments

Post a comment

Home