.Com आरक्षण के नाम पर पिछड़ों एवं दलितों को लड़ाया जा रहाः रामजीत सिंह यादव | Zila News

आरक्षण के नाम पर पिछड़ों एवं दलितों को लड़ाया जा रहाः रामजीत सिंह यादव

जौनपुर। अखिल भारतीय यादव महासंघ सामाजिक न्याय व अधिकार की लड़ाई के लिये तत्पर है। सरकार द्वारा यादव समाज के साथ राजनीतिक द्वेष व बदले की भावना से कार्य किया जा रहा है। फर्जी एनकाण्उटर किया जा रहा है। फर्जी मुकदमे लगाये जा रहे हैं। प्रशासन द्वारा यादवों की शिकायत नहीं सुनी जा रही है। आरक्षण के नाम पर पिछड़ों एवं दलितों को आपस में लड़ाया जा रहा है। आरक्षण को बांटने की बात की जा रही है। यदि वास्तव में सरकार सामाजिक न्याय की बात करती है तो शत-प्रतिशत जनसंख्या के आधार पर जिसकी जितनी संख्या हो, उसको उतना आरक्षण दे दिया जाय। उक्त बातें महासंघ के राष्ट्रीय अध्यक्ष रामजीत सिंह यादव ने सोमवार को नगर के होटल में पत्रकारों से वार्ता करते हुये कही। उन्होंने आगे कहा कि सबसे ज्यादा जातिवाद न्यायालयों में चल रहा है। सुप्रीम कोर्ट ने अपने आदेश में कहा है कि आरक्षित वर्ग यदि आरक्षित श्रेणी में आवेदन करता है तो मेरिट में चाहे वह टॉपर ही क्यों न हो, सामान्य वर्ग में नहीं जा सकता। इस प्रकार सवर्णों को 50.5 प्रतिशत आरक्षित कर दिया जिसकी आबादी 85 प्रतिशत उसको 49.5 प्रतिशत। हमारी लड़ाई अहीर रेजीमेन्ट के गठन के लिये है जो हमारी आन, बान व शान की है, इसको लेकर रहेंगे। आजादी से लेकर अब तक सबसे ज्यादा कुर्बानी यादवों की हुई है। मेडिकल, पीसीएस, विश्वविद्यालयों में आरक्षण खत्म कर दिया गया लेकिन कथित सामाजिक न्याय की पार्टियां मौन हैं। उनहोंने कहा कि महासंघ दहेज विरोधी अभियान चलायेगा। इस समाज में मद्यपान की लत तेजी से बढ़ रही है। इसके लिये जागरूकता की जरूरत है विशेष कर युवा वर्ग के लिये। इस अवसर पर युवा यादव महासंघ के राष्ट्रीय अध्यक्ष डा. ब्रजेश यदुवंशी, यादव महासंघ के प्रदेश अध्यक्ष दिनेश यादव, बाला लखन्दर यादव, नन्द लाल यादव, कृष्ण कुमार यादव, अनिल यादव, शिवशंकर यादव, कमलेश यादव, ऋषि यादव, आजाद यादव सहित समाज के तमाम लोग उपस्थित रहे।

No comments

Post a Comment

Home