.Com भारतीय शास्त्रीय संगीत ग्रामीण क्षेत्र के स्कूलों में अनिवार्य होः सुचरिता गुप्ता | Zila News

भारतीय शास्त्रीय संगीत ग्रामीण क्षेत्र के स्कूलों में अनिवार्य होः सुचरिता गुप्ता

जौनपुर। सरकार को भारतीय शास्त्रीय संगीत को बढ़ावा देने के लिये ग्रामीण क्षेत्र के स्कूलों में भी इसे अनिवार्य रूप से लागू करना चाहिये। इससे ग्रामीण क्षेत्र के बच्चों को भी उचित मार्गदर्शन देकर तराशा जाय। ग्रामीण बच्चों में प्रतिभा की कोई कमी नहीं होती है।
उक्त बातें त्रिलोचन महादेव में दर्शन-पूजन करनेे बनारस से पधारीं सुप्रसिद्ध शास्त्रीय व उपशास्त्रीय गायिका सुचरिता गुप्ता ने कहीं। उन्होंने शास्त्रीय संगीत को हिन्दुस्तान की विरासत बताया जिसे सहेजने की जिम्मेदारी हम सभी की है। विदेश के भी लोगों का झुकाव हमारी महान परम्परा की ओर सदियों से रहा है। खेलों की तरह सरकार को शास्त्रीय संगीत को भी बढ़ावा देने की जरूरत है। बता दें कि श्रीमती गुप्ता ठुमरी, चैती, दादरा, कजरी जैसे पारम्परिक गीतों के लिये पूरे भारत में जानी जाती हैं। इस दौरान उद्योग व्यापार मण्डल अध्यक्ष अनुराग वर्मा ने स्मृति चिन्ह देकर श्रीमती गुप्ता को सम्मानित किया। इस अवसर पर समाजसेवी रामचन्द्र सिंह, विनय वर्मा, चन्दन सेठ, संतोष मिश्रा, विवेक सेठ सहित तमाम लोग उपस्थित रहे।

No comments

Post a comment

Home