.Com जड़ी-बूटी दिवस के रूप में मनाया गया आचार्य बालकृष्ण का जन्मदिन | Zila News

जड़ी-बूटी दिवस के रूप में मनाया गया आचार्य बालकृष्ण का जन्मदिन

जौनपुर। सदियों से विलुप्त होती जा रही भारत की प्राचीनतम चिकित्सा पद्धति आयुर्वेद को आधुनिक युग में उसके मूल स्वरूप में पुनसर््थापित करके वैश्विक स्तर तक पहुंचाकर एक स्वस्थ व समृद्ध धरा के निर्माण में अपनी महती भूमिका को निभा रहे आधुनिक युग के धनवन्तरी के रूप में वैश्विक पहचान बनाने वाले आचार्य बालकृष्ण का जन्मदिन पतंजलि किसान सेवा समिति के अध्यक्ष विजय दत्त के नेतृत्व में जड़ी बूटी दिवस के रूप में धूमधाम से मनाया गया। रविवार की अलसुबह से पतंजलि योग परिवार के हजारों योग साधकों द्वारा सैकड़ों योग की कक्षाओं में यज्ञ और हवन को करते हुये जन-जन को जड़ी-बूटी से सम्बन्धित पौधों की जानकारियों को देते हुये सार्वजनिक स्थानों पर हजारों की संख्या में गिलोय, तुलसी, नीम, आंवला, पीपल, हल्दी, अदरक जैसे औषधि गुणों से युक्त पौधों का वितरण किया गया। नगर के चहारसू चौराहा स्थित आर्य समाज मन्दिर में पतंजलि योग समिति के उनका कार्यकर्ताओं का सम्मान समारोह हुआ जिनके तप व पुरूषार्थ के कारण ही योग गुरू बाबा रामदेव का जनपद में एक ऐतिहासिक और दिव्यता से परिपूर्ण तीन दिवसीय योग चिकित्सा एवं ध्यान शिविर का सफल आयोजन हुआ था। इस दौरान सभी तहसीलों के पदाधिकारियों सहित बड़ी संख्या में सामाजिक कार्यकर्ता उपस्थित होकर भोजन प्रसाद ग्रहण करते हुये जन-जन तक योग, आयुर्वेद एवं प्राकृतिक चिकित्सा पद्धतियों को पहुंचाकर लोगों को स्वस्थ व खुशहाल रखने के लिये संकल्पित हुये। इस अवसर पर अचल हरीमूर्ति, डा. वीपी शर्मा, डा. धु्रवराज, जगदीश यादव, राजकुमार यादव, डा. हेमंत, शशिभूषण, धर्मेन्द्र यादव, संजीव पाण्डेय, कुलदीप योगी सहित तमाम लोगों की उपस्थिति रही।

No comments

Post a comment

Home