.Com बताया गया- 8 लाख 90 हजार पशुओं के टीकाकरण का रखा गया है लक्ष्य | Zila News

बताया गया- 8 लाख 90 हजार पशुओं के टीकाकरण का रखा गया है लक्ष्य

जौनपुर। पशुपालन विभाग द्वारा संचालित खुरपका व मुंहपका टीकाकरण नियंत्रण कार्यक्रम के 23वें चरण का शुभारम्भ जिलाधिकारी अरविन्द मलप्पा बंगारी एवं मुख्य विकास अधिकारी गौरव वर्मा द्वारा हरी झण्डी दिखाकर किया गया। कलेक्ट्रेट प्रांगण में आयोजित शुभारम्भ अवसर पर विकास खण्ड धर्मापुर, करंजाकला, बक्शा, सदर के बहु उद्देशीय सचल वाहन से टीकाकरण टीमें अपने क्षेत्र हेतु रवाना हुईं। टीम में डा. एसके अग्रवाल, डा. धर्मेन्द्र सिंह, डा. राजेश कुमार, डा. पवन कुमार, डा. आलोक चौधरी, डा. ओपी यादव, लेखाकार कंचन सिंह, मानवेन्द्र सिह, संजय तिवारी, हनुमान प्रसाद शुक्ला, राकेश समदरिया, अवधेश यादव, अवधेश सिह प्रथम, अवधेश सिंह द्वितीय, ओम प्रकाश यादव, संजीव कुमार, सर्वश कुमार, सुनील यादव, अरविन्द श्रीवास्तव, बसंत सिह, उमा सिह उपस्थित रहे। शेष विकास खण्डों की टीमें अपने विकास खण्ड परिसर से रवाना हुईं। इस मौके पर बताया गया कि इसके अन्तर्गत जनपद में 8 लाख 90 हजार पशुओं के टीकाकरण का लक्ष्य रखा गया है जिसके लिये 63 टीमें कार्य करेंगी। प्रत्येक टीम में एक पशु चिकित्साधिकारी के साथ दो पशुधन प्रसार अधिकारी एवं दो अन्य सहयोगी लगाये गये हैं। यह अभियान लगातार 45 दिनों तक चलेगा जिसमें जनपद के गोवंश एवं महिषवंश के सभी पशुओं का टीकाकरण किया जायेगा। 8 माह से ऊपर के गर्भित पशुओं एवं 4 माह से कम उम्र के बच्चों का टीकाकरण नहीं किया जायेगा। छूटे पशुओं का टीकाकरण बाद में किया जायेगा। सभी विकास खण्ड के पशु चिकित्साधिकारी विकास खण्ड स्तर पर इस कार्य हेतु नोडल अधिकारी होंगे। जनपद स्तर पर नोडल अधिकारी डा. राजेश कुमार उप मुख्य पशुचिकित्साधिकारी को बनाया गया है जिनका मो.नं. 08858314387 है। मुख्य पशु चिकित्सा अधिकारी डा. विरेन्द्र सिंह ने बताया कि खुरपका-मुंहपका एक विषाणु जनित बीमारी है जो मुख्य रूप से जुगाली करने वाले पशुओं को प्रभावित करती है। इस बीमारी से संक्रमित पशु को तेज बुखार आता है। खुर व पैर के जोड़ और दोनों खुरों के बीच में दाने पड़ जाते हैं। जीभ व मसूढ़ों में छाले पड़ जाते हैं तथा मुंह से लार गिरने लगती है। पशु चारा खाना छोड़ देता है और लंगड़ाने लगता है जिससे पशु की उत्पादकता घट जाती है। इस बीमारी से बचाव हेतु पशुओं का शत-प्रतिशत टीकाकरण आवश्यक है। उन्होंने पशुपालकों से अपील किया कि टीकाकरण कार्य हेतु लगायी गयी टीम का सहयोग कर अपने पशुओं का टीकारकरण अवश्य करायें। 15 सितम्बर को शुरू हो रहे इस अभियान का टीकाकरण रोस्टर में न्याय पंचायतवार निम्नवत ग्राम पंचायतों में किया जाना है- सुइथाकला के सुइथाकला, शाहगंज के कोपा, खुटहन के खुटहन, करंजाकला के आदमपुर, बदलापुर के बदलापुर खुर्द, महराजगंज के पूरा गम्भीर शाह, बक्शा के बक्शा, सुजानगंज के अमाव, मुगराबादशाहपुर के धौरहरा, मछलीशहर के बरईपार, शीतलगंज के सुदनीपुर, बरसठी के वाजिदपुर, सिकरारा के लखौंवा, धर्मापुर के पिलखिनी, रामनगर के तरती, रामपुर के आशानन्दपुर, मुफ्तीगंज के भदेवरा, जलालपुर के जरहिला कला, केराकत के अमहित, डोभी के कोपा एवं सिरकोनी के अहमदपुर में किया जायेगा।

No comments

Post a comment

Home