.Com सजदे में सर झुकने से पहले मौत के आगोश में समा गए बच्चे | Zila News

सजदे में सर झुकने से पहले मौत के आगोश में समा गए बच्चे

(बाबर)
जलालपुर , जौनपुर - स्थानीय थाना अंतर्गत रेहटी गाँव में अचानक हुई तीन
बच्चों की मौत ने पुरे गाँव को झकझोर कर रख दिया | एक बालक अभी भी जिंदगी
और मौत से संघर्ष कर रहा है | किसे पता था की अचानक इस तरह मौत आएगी की
सजदे में सर झुकने के पहले ही दो मासूम बच्चों को मौत निगल जाएगी  |
बताते हैं की असजद पुत्र आफ़ताब आलम और आरिस पुत्र मुहम्मद इरफ़ान लगभग १
बजे जुमे की नमाज पढ़ने जारहे थे | वही आयुष राजभर और शिवम् सभी निवासी
रेहटी दीवार के समीप बैठे थे तभी जीसीबी से अधिक मात्रा में बालू रक्खे
जाने के कारण अचानक ५ इंच की दीवार गिर पड़ी और चारो बच्चे उसके मलबे में
दब गए | घटना के बाद गाँव में कोहराम मच गया | सूचना मिलते ही मृतक के
परिजन भी मौके पर पहुँच गए | चीख -पुकार से सब का दिल काँप उठा | लोग
आश्चर्य में थे की क्या मौत इस तरह भी आती है | मुस्लिम बच्चों के परिजन
रोते हुए यह कहरहे थे की मेरे दोनों लाल हर जुमा को अपने दादा के साथ
नमाज |

No comments

Post a comment

Home