.Com दीन दयाल उपाध्याय की मनायी गयी 51वीं पुण्यतिथि | Zila News

दीन दयाल उपाध्याय की मनायी गयी 51वीं पुण्यतिथि

जौनपुर। भारत की सनातन विचारधारा को युगानुकूल रूप से प्रस्तुत करते हुये देश को एकात्म मानववाद की प्रगतिशील विचारधारा को देने वाले दीन दयाल उपाध्याय न सिर्फ एक महान चिंतक थे, वरन एक कुशल संगठनकर्ता भी थे। उक्त बातें भाजपा के प्रदेश महामंत्री एवं विधान परिषद सदस्य विद्यासागर सोनकर ने श्री उपाध्याय की 51वीं पुण्यतिथि पर बूथ संख्या 295 पर आयोजित समर्पण दिवस पर कही। साथ ही नगर अध्यक्ष आशीष गुप्ता ने श्री उपाध्याय के व्यक्तित्व एवं कृतित्व पर प्रकाश डालते हुये बताया कि वह एक प्रखर विचारक थे। साथ ही ऐसे नेता थे जिन्होंने जीवन पर्यंत अपनी व्यक्तिगत ईमानदारी व सत्यनिष्ठा को महत्व दिया। नगर महामंत्री अमित श्रीवास्तव ने श्री उपाध्याय के जीवन दर्शन पर प्रकाश डालते हुये कहा कि उनका मानना था कि हिन्दू कोई धर्म या सम्प्रदाय नहीं, बल्कि भारत की राष्ट्रीय संस्कृति है। हम सभी कार्यकर्ताओं को सदैव उनके दिखाये एकात्म मानववाद के रास्ते पर चलने का प्रयास करना चाहिये। कार्यक्रम का संचालन सेक्टर संयोजक शिव कुमार मौर्य सभासद ने किया। अन्त में बूथ अध्यक्ष रमन सोनकर ने सभी के प्रति आभार दिया। इस अवसर पर पाणिनी सिंह, विकास शर्मा, ज्ञानेन्द्र मिश्र, रवि मौर्या, बृजेश मिश्रा, अजीत सोनी, सुशील सिंह, संजय श्रीवास्तव, डा. अरूण उपाध्याय, गीता बिन्द, सुभाष मौर्य, संजीव चौरसिया सहित तमाम लोग उपस्थित रहे।

No comments

Post a comment

Home