.Com आरक्षी अधीक्षक ने कोर्ट मोहर्रिर व पैरोकार के साथ की गोष्ठीग | Zila News

आरक्षी अधीक्षक ने कोर्ट मोहर्रिर व पैरोकार के साथ की गोष्ठीग

जौनपुर। आरक्षी अधीक्षक आशीष तिवारी ने पुलिस लाइन सभागार में गोष्ठी किया। इस मौके पर आरक्षी अधीक्षक ने कहा कि प्रतिदिन प्रत्येक थाने से कम से कम 10 गवाह सम्बन्धित कोर्ट में प्रत्येक दशा में उपस्थित होंगे। इसके तामिला हेतु हल्का प्रभारी, मुख्य आरक्षी, आरक्षी तामिला कराकर गवाह की उपस्थिति सुनिश्चित करायेंगे। प्रत्येक पैरोकार एक-एक फर्जी जमानतदार का नाम व पता लायेंगे। हर एक थाने का बेल डेट एक दिन पूर्व एसपीओ, डीजीसी पीओ को उपलब्ध कराना सुनिश्चित करें। प्रत्येक थाने से चार्जशीट व एफआर न्यायालय में न दाखिल होने पर सम्पर्क कर दाखिल करायें। चोर/लूटेरों की कार्यवाही शिनाख्त कराना सम्बन्धित का है। इसका परिवेक्षण क्षेत्राधिकारी, एसपीओ द्वारा अपने नजदीकी गहन परिवेक्षण में कराना सुनिश्चित करें। सम्मन/नोटिस 350 एनबीडब्ल्यू का प्रोफार्मा 100 की गड्डी में आरके द्वारा उपलब्ध करायी जायेगी। आरके डीएम सहित सभी एसडीएम, एडीएम, जनपदीय न्यायालय में कोर्ट मोहर्रिर को एक रजिस्टर उपलब्ध करायें। प्रत्येक कोर्ट मोहर्रिर प्रतिदिन उपस्थित होने वाले गवाहों का विवरण रजिस्टर में अंकित करें तथा मानिटरिंग सेल को अवगत करायें। कोर्ट मोहर्रिर, पैरोकार का अवकाश प्रभारी मानिटरिंग सेल द्वारा देय होगा। सम्मन सेल प्रभारी जो सम्मन गैर जनपद के लिये भेजते हैं, तारीख पेशी से पहले पैरोकार को उपलब्ध करायेंगे। गोष्ठी में जिला अभियोजन अधिकारी, डीजीसी क्रिमिनल, मानिटरिंग सेल प्रभारी, कोर्ट मोहर्रिर सहित समस्त थानों के पैरोकार उपस्थित रहे।






No comments

Post a comment

Home