.Com आत्म प्रतिबिम्ब के माध्यम से ही व्यक्तियों का विकास संभवः प्रो. परवेज तालिब | Zila News

आत्म प्रतिबिम्ब के माध्यम से ही व्यक्तियों का विकास संभवः प्रो. परवेज तालिब

जौनपुर। वीर बहादुर सिंह पूर्वांचल विश्वविद्यालय के व्यवसाय प्रबंधन विभाग एवं अलीगढ़ मुस्लिम विश्वविद्यालय के सयुंक्त तत्वाधान में आयोजित 7 दिवसीय शैक्षणिक नेतृत्व प्रशिक्षण कार्यक्रम का मंगलवार को समापन हो गया। यह आयोजन भारत सरकार के मानव संसाधन एवं विकास मंत्रालय से प्रायोजित रहा जो मदन मोहन मालवीय राष्ट्रीय शिक्षक मिशन एवं शिक्षण द्वारा आयोजित था। कार्यक्रम की अध्यक्षता करते हुये मुख्य अतिथि अलीगढ़ मुस्लिम विश्वविद्यालय के व्यवसाय प्रबंधन संकाय के अध्यक्ष प्रो. परवेज तालिब ने कहा कि आत्म प्रतिबिम्ब के माध्यम से ही व्यक्तियों का विकास संभव है। शैक्षणिक प्रशासक को अपनी शक्तियों व कमजोरियों की पहचान करने के लिये अपने भीतर आत्मनिरीक्षण करने की आवश्यकता है। इस दौरान विशेष अतिथि इलेक्ट्रानिक्स व संचार इंजीनियरिंग विभाग के अध्यक्ष प्रो. बीबी तिवारी ने कहा कि अकादमिक प्रशासकों को अपने व्यवसायी अभ्यासों में नैतिकता के कोड को विकसित करना चाहिये। समाज के सैद्धांतिक मूल्य सद्भाव के विभिन्न हितधारकों को ध्यान में रखते हुये उद्देश्यों की प्राप्ति के लिये मार्गदर्शन करेंगे। व्यवसाय प्रबंधन विभाग के अध्यक्ष व प्रशिक्षण कार्यक्रम के समन्वयक डा. मुराद अली ने कार्यक्रम की रिपोर्ट प्रस्तुत किया। कार्यक्रम में परीक्षा नियंत्रक, कार्यकारी परिषद, शैक्षणिक परिषद, अध्ययन बोर्ड के सदस्य सहित कुल 46 अकादमिक प्रशासक शामिल रहे। समापन अवसर पर सफल अभ्यर्थियों को प्रमाण पत्र दिया गया। इसके पहले प्रो. परवेज तालिब ने प्रतिभागियों के विभिन्न व्यक्तित्व लक्षणों की पहचान करने के लिये सामूहिक अभ्यास का आयोजन किया जिसे बेहतर अकादमिक प्रशासन के लिये सकारात्मक तरीके से प्रवाहित किया जा सकता है। कार्यक्रम का संचालन डा. मुराद अली ने किया। अन्त में डा. सुशील सिंह ने सभी के प्रति धन्यवाद ज्ञापित किया।

No comments

Post a comment

Home