.Com ‘खुले में शौच’ मुक्त करने का दावा हवा-हवाई साबित | Zila News

‘खुले में शौच’ मुक्त करने का दावा हवा-हवाई साबित

जौनपुर। देश के प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी की महत्वाकांक्षी योजना खुले में शौच मुक्त करने का दावा सिर्फ हवा-हवाई साबित नजर आ रहा है। सिर्फ कागजों पर ही ब्लाक के अधिकतर गांवों को ओडीएफ घोषित किया गया है। स्थानीय ब्लाक के अधिकतर लाभार्थियों का अभी तक शौचालय नहीं बन पाया है, वहीं जिसका बना है तो गुणवत्ताविहीन होने की वजह से प्रयोग में नहीं लाया जा रहा है। स्थानीय ब्लाक के बेलांव के दलित बस्ती के लोगों का कहना है कि गुणवत्ताविहीन होने की वजह से महिलाएं इसको नहाने के लिये प्रयोग करी हैं तो कुछ लोग शौचालय में ताला बंद कर रखे हैं। वहीं स्थानीय क्षेत्र के लकठेपुर गांव की दलित बस्ती की महिलाओं का कहना है कि अभी तक हम लोगों का शौचालय ग्राम प्रधान एवं पंचायत सचिव द्वारा बनवाया गया है लेकिन अभी तक अधिकतर शौचालय में न पार्ट लगा है और न ही दरवाजा। वहीं अधिकतर शौचालयों की टंकी का अभी तक ढक्कन भी नहीं लग पाया है। इसी तरह ब्लाक के गद्दीपुर गांव में भी अभी तक कुछ ही लोगो का गुणवत्ताविहीन शौचालय बनकर खड़ा है जो सिर्फ शो पीस ही साबित होता नजर आ रहा है। क्षेत्रीय लोगों का कहना है कि हम लोग खुले में शौच करने को मजबूर हैं। इस बाबत पूछे जाने पर खण्ड विकास अधिकारी मुफ्तीगंज राजीव कुमार का कहना है कि इसकी एडी पंचायत से जांच कराकर जहां कमी पायी जायेगी, उसे दूरकर दोषी के खिलाफ कार्यवाही की जायेगी। साथ ही अभी तक जिनका शौचालय नहीं बन पाया है, उनके लिये जांच करवाकर शौचालय स्वीकृत करायी जायेगी।

No comments

Post a comment

Home