.Com जौनपुर। यूपी बोर्ड परीक्षा में प्राथमिक स्कूलों के टीचरों की ड्यूटी लगाये जाने से सभी शिक्षको में भारी आक्रोश व्याप्त हो गया है। | Zila News

जौनपुर। यूपी बोर्ड परीक्षा में प्राथमिक स्कूलों के टीचरों की ड्यूटी लगाये जाने से सभी शिक्षको में भारी आक्रोश व्याप्त हो गया है।

जौनपुर। यूपी बोर्ड परीक्षा में प्राथमिक स्कूलों के टीचरों की ड्यूटी लगाये जाने से सभी शिक्षको में भारी आक्रोश व्याप्त हो गया है। मंगलवार को प्राथमिक शिक्षक संघ और यूटा संगठन ने अपने गुट के पदाधिकारियों के साथ बेसिक शिक्षाधिकारी को ज्ञापन सौपा। सभी इसे तुगलकी फरमान बताते हुए कहा कि शिक्षको की विद्यालय से 70-80 किलोमीटर दूर बोर्ड परीक्षा में ड्यूटी लगा दी गयी है,जबकि परिषदीय विद्यालयों में 23 मार्च से परीक्षा प्रस्तावित है,और तो और एक ही विद्यालय से सारे अध्यापकों की ड्यूटी लगा दी गयी है,जो पूर्णतः मानक और व्यवहारिकता के खिलाफ है। 

  प्राथमिक शिक्षक संघ के अध्यक्ष अमित सिंह ने मांग किया कि पूर्व की तरह खण्ड शिक्षा अधिकारियों की संस्तुति के आधार पर कार्यरत ब्लाकों में ही बोर्ड परीक्षा ड्यूटी लगाई जाए, जनपदीय प्रतिनिधिमंडल में जिला मंत्री सतीश पाठक,जिला उपाध्यक्ष अतुल सिंह,जिला संगठन मंत्री अश्वनी सिंह,जिला संगठन मंत्री संतोष सिंह बघेल,मड़ियाहूं ब्लाक अध्यक्ष विशाल सिंह उपस्थित रहे।

उधर यूटा जिलाध्यक्ष संजय सिंह के नेतृत्व में शिक्षको एक प्रतिनिधि मण्डल बीएसए को ज्ञापन सौपकर अपना विरोध दर्ज कराते हुए कहा कि बोर्ड परीक्षा में ड्यूटी लगा दी गयी है,जबकि परिषदीय विद्यालयों में 23 मार्च से परीक्षा प्रस्तावित है,और तो और एक ही विद्यालय से सारे अध्यापकों की ड्यूटी लगा दी गयी है,जो पूर्णतः मानक और व्यवहारिकता के खिलाफ है, अतः संघ यह मांग करता है कि पूर्व की तरह खण्ड शिक्षा अधिकारियों की संस्तुति के आधार पर कार्यरत ब्लाकों में ही बोर्ड परीक्षा ड्यूटी लगाई जाए, इस दौरान जिला मंत्री लक्ष्मी नारायण तिवारी जिला कोषाध्यक्ष डॉ०आशीष सिंह, वरिष्ठ शिक्षक नेता जनार्दन सिंह अध्यक्ष मड़ियाहूँ एवं जिला उपाध्यक्ष डॉ हेमंत सिंह, संगठन मंत्री सुमति श्रीवास्तव, अनामिका गुप्ता उपस्थित रहे

No comments

Post a Comment

Home