.Com जौनपुर) जलालपुर कस्बे मे स्थिति थाने के बगल में जामा मस्जिद का मामला 8 साल के बाद एक बार फिर चर्चा में आ गया है | Zila News

जौनपुर) जलालपुर कस्बे मे स्थिति थाने के बगल में जामा मस्जिद का मामला 8 साल के बाद एक बार फिर चर्चा में आ गया है

जलालपुर (जौनपुर) जलालपुर कस्बे मे स्थिति थाने के बगल में जामा मस्जिद का मामला 8 साल के बाद एक बार फिर चर्चा में आ गया है। इस बार भी जलालपुर थानाध्यक्ष पर आरोप लग रहें है। 

आरोप है कि थानाध्यक्ष ने मस्जिद के सामने की दीवार तोडवाकर मस्जिद के बगल से जबरन रास्ते का निर्माण करा रहे है। रास्ते के निर्माण का एक समुदाय द्वारा विरोध किया जा रहा है। मामला तूल पकड़ा तो शनिवार के दिन एसडीएम व क्षेत्राधिकारी केराकत मौके पर पहुंच कर जांच की इस दौरान राजस्व टीम द्वारा सई नदी के पुल को केन्द्र मानकर पैमाइश किया गया। पैमाइश के बाद एसडीएम और क्षेत्राधिकारी ने मस्जिद के पेश इमाम हाजी मोहम्मद अयूब खान से बातचीत की और न्याय का पूरा भरोसा दिया है। 
 आपको बता दें कि पिछले रविवार को एसडीएम और सीओ के नेतृत्व में बुलडोजर लगाकर कस्बे की सड़कों पर हुए अवैध अतिक्रमण को हटाया गया था। अतिक्रमण हटाने की शुरुआत मस्जिद के सामने बनी दीवार को तोड़कर हुई थी। मस्जिद के सामने की दीवार तोड़कर मस्जिद के बगल से रास्ता बनना शुरू हुआ तो एक समुदाय के लोग इसका विरोध करने लगे। आरोप है कि थानाध्यक्ष के द्वारा पहले मस्जिद की दीवार तोड़वा दिया गया उसके बाद मस्जिद के बगल से रास्ते का जबरन निर्माण कराया जा रहा है। मामला तूल पकड़ता देख केराकत एसडीएम राजेश चौरसिया क्षेत्राधिकारी गौरव शर्मा मौके पर पहुंच कर मामले को संज्ञान में लेकर जांच पड़ताल में जुट गए हैं। मस्जिद के पेश इमाम हाजी मोहम्मद अयूब खान ने बताया कि अधिकारियों द्वारा मस्जिद के बगल से रास्ते का निर्माण कराने का प्रस्ताव रखा गया है इस प्रस्ताव को हमारे समुदाय के लोग मानने को तैयार नहीं है। उन्होंने बताया कि मस्जिद वक्फ बोर्ड की है 8 साल पूर्व में भी वर्तमान में जलालपुर थाने पर तैनात इस्पेक्टर रामेश्वर सिंह भी रास्ते का निर्माण करना चाह रहे थे उस समय डीएम के आदेश के बाद काम रोक दिया गया था। Attachments area

No comments

Post a Comment

Home